कब लगेंगी कालेज के अभ्यर्थियों की परीक्षा

   राजस्थान सरकार सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग

कब लगेंगी कालेज के अभ्यर्थियों की परीक्षा

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

उच्च शिक्षा की परीक्षाओं के संबंध में राज्य सरकार ने जारी किए नए दिशा-निर्देश 

जाने किन किन अभ्यर्थियों की लगेगी परीक्षा और किस आधार पर जारी किया जाएगा रिजल्ट क्या सभी अभ्यर्थियों की परीक्षा लगेगी और अगर जिन अभ्यर्थियों को प्रमोट किया जाएगा तो उनकी परसेंटेज किस आधार पर तैयार की जाएगी

सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के अनुसार अंतिम वर्ष (last year) के अभ्यार्थियों  की परीक्षाएं जुलाई के अंतिम या अगस्त के प्रथम सप्ताह से होंगी

अगर कोरोना की स्थिति सामान्य होती है तो और अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है तो अभ्यर्थियों की परीक्षा जब तक स्थिति सामान्य नहीं हो जाती तब तक नहीं ली जाएगी

राजस्थान सरकार एवं सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा जारी सूचना के आधार पर 4 जुलाई को यह निर्देश  दिया गया कि परीक्षा कराना अनिवार्य होगा 

राज्य सरकार ने UGC के द्वारा जारी  गाइडलाइन तथा  सर्वोच्च न्यायालय (SC) के द्वारा दिए गए  निर्णय तथा परीक्षा  विभागीय समिति के द्वारा सभी  सुझावों को ध्यान में रखते हुए सभी  विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों की सत्र 2020-21 की परीक्षाओं का आयोजन कराने  के संबंध में निम्न लिखित  गाइड लाइन  जारी की गई है ।

उच्च शिक्षा के  राज्यमंत्री श्री भंवर सिंह भाटी ने यह बताया है कि यूजीसी और सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों के स्नातक तृतीय (3rd year) अथवा अन्तिम वर्ष (last year )  तथा फाइनल  terminal semester(टर्मिनल सेमेस्टर)  की परीक्षाएं

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

 जुलाई के अन्तिम सप्ताह या अगस्त के प्रथम सप्ताह से ऑफलाइन(Offline mode) में आयोजित की जाएंगी। 

तथा 

इन सभी परिक्षाओ के  परिणाम 

30. सितम्बर, 2021 तक जारी किये जाएंगे।

किस आधार पर बनेगी परसेंटेज(percent) और मार्क्स किस आधार पर दिए जाएंगे 

विद्यार्थियों को

इसके लिए सर्वोच्च न्यायालय और यूजीसी के द्वारा जारी गाइडलाइन के आधार पर राजस्थान

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

राज्य शिक्षा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी  ने यह भी बताया कि 

1st year वालो के लिए 

स्नातक के प्रथम वर्ष में अध्यनरत  विद्यार्थियों को कक्षा  10 वीं एवं कक्षा 12 की  परीक्षाओं में प्राप्त अंकों का average ओसत निकालकर उसके आधार पर अंक देकर किया जायेगा प्रोन्नत । 

Second year वालो के लिए 

स्नातक द्वितीय वर्ष 2nd year  के विद्यार्थियों को अस्थाई  आधार पर अगली कक्षा यानी last year (finel year)  में प्रवेश दिया जाएगा तथा

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

 10 July 2021 से कर दिया जायेगा  ऑनलाइन अध्यापन कार्य प्रारंभ 

अगर जब तक कोविड परिस्थिति सामान्य हो जाती तब तक  द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों की परीक्षाएं यथा शीघ्र  सुविधानुसार

 ऑब्जेक्टिव या डिस्क्रेप्टिव पैटर्न जैसा भी यूनीवर्सिटी को उचित लगेगा उसी आधार  पर आयोजित कर 31 December, 2021 तक किए जायेंगे परिणाम जारी ।

 

Rajasthan के उच्च शिक्षा राज्यमंत्री श्री भंवर सिंह भाटी जी द्वारा बताया कि महाविद्यालय  स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष  के विद्यार्थियों को अस्थाई रूप से अगली कक्षा में प्रवेश देकर अध्यापन का  कार्य 10 July 2021 से सुचारू रूप से  प्रारंभ कर दिया जाएगा।

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

जब तक कोविड स्थिति सामान्य नहीं हो जाती तब तक

यूजीसी द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार परीक्षा करवा कर टेंपरेरी रूप से अनुरोध किया जाएगा तथा उसी के आधार पर रिजल्ट जारी किया जाएगा तथा

 हालात सामान्य होने पर सही तरीके से परीक्षाएं आयोजित कर 31 दिसम्बर, 2021 तक उनके परिणाम जारी किये जाएंगे।

University के स्नातकोत्तर के  (अन्तिम वर्ष) के छात्रों की परीक्षाओं का आयोजन  July के अन्तिम सप्ताह अथवा August के प्रथम सप्ताह से ऑफलाइन तरीके से आयोजित कराई  जाएंगी, 

जिनके परिणाम 30 September 2021 तक जारी अधिकारिक वेबसाइट पर जारी किये जाएंगे।

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

जानिए कैसे होगा पेपर 

यूजीसी और सर्वोच्च न्यायालय के गाइडलाइन के अनुसार जारी दिशा निर्देशों के आधार पर महाविद्यालय परीक्षार्थियों के लिए एक साधारण तरीके से परीक्षा आयोजित करवाई जाएगी जिससे कि प्रत्येक अभ्यार्थी नए साल के सत्र के साथ-साथ पुराने सत्र की सिलेबस को भी पढ़ सके

अभ्यार्थियों के लिए जारी राजस्थान सरकार की गाइडलाइन और सर्वोच्च न्यायालय के दिशा निर्देशों अनुसार यूजीसी द्वारा फर्स्ट ईयर के अभ्यर्थियों को दसवीं और बारहवीं की प्राप्त अंकों के आधार पर नंबर देकर प्रमोट किया जाएगा तथा सेकंड ईयर के विद्यार्थियों को टेंपरेरी रूप से प्रमोट किया जाएगा जिसके अंदर उनकी optional paper/ objective a descriptive तरीके से  करवा के पदोन्न किया जाएगा

कितना सिलेबस आएगा

राजस्थान सरकार और यूजीसी के तथा सर्वोच्च न्यायालय के आदेश अनुसार जब कोई की स्थिति सामान्य हो जाएगी तब सेकंड ईयर के विद्यार्थियों की परीक्षा संबंधित यूनिवर्सिटी द्वारा आयोजित करवाई जाएगी जिसमें संपूर्ण सिलेबस से प्रश्न पत्र नहीं आएगा प्रश्न पत्र के लिए संबंधित यूनिवर्सिटी द्वारा यूनिवर्सिटी की आधिकारिक वेबसाइट पर परीक्षा के आयोजन से पहले सिलेबस अपलोड कर दिया जाएगा

अब तक की जानकारी के हिसाब से संपूर्ण सिलेबस का आधे भाग में से  प्रश्न पत्र तैयार होगा

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

और क्या रहेगा परीक्षा का समय

जैसा कि उपरोक्त जानकारी के अनुसार पेपर पुराने समय के अनुसार नहीं होकर जितना सिलेबस यूनिवर्सिटी के द्वारा बताया जाएगा उस हिसाब से पेपर का टाइम भी 3 घंटे से कम करके आधा कर दिया जाएगा अर्थात

1.30 hour का होगा पेपर

 एक विषय के लगने वाले सभी  पेपर एक साथ एक ही पेपर में देने होंगे

अर्थात एक विषय के पेपर के लिए एक ही परीक्षा का आयोजन कराया जाएगा अलग-अलग पेपर का नहीं

परीक्षा ऑनलाइन होगी या ऑफलाइन

  • राज्य मंत्री श्री भंवर सिंह  भाटी ने बताया कि जिन-जिन (कोर्सेज/संकाय / विषयों) में विद्यार्थियों की संख्या कम होगी  और अगर विश्वविद्यालय के पास पर्याप्त संसाधन उपलब्ध होते हैं, तो उसी आधार पर उनकी परीक्षाएं ऑनलाइन मोड पर करवाई जा सकती हैं। 
  • इसी प्रकार professional course एवं semester system के पाठ्यक्रमों की परीक्षाएं भी सभी ऑनलाइन मोड (online mode) में   आयोजित करवाई जाएगी।
  •  UGC  के द्वारा ये बताया गया है कि प्रश्न पत्रों में यूनिट/चैप्टर  की कोई  बाध्यता नहीं होगी  ओर परीक्षा की अवधि 3 घंटे के स्थान पर प्रत्येक प्रश्न पत्र डेढ़ घण्टे(1.30 min)  की रखी जाएगी। 
  •  इसी के साथ ही परिक्षा के प्रश्न पत्रों में आने वाले  प्रश्नों का अनुपात  50 प्रतिशत हल करने का विकल्प अर्थात (अथवा) का भी विकल्प दिया जायेगा। जिन विषयों में दो अथवा से अधिक  3/4/5  प्रश्न-पत्र होते हैं। उनके सभी  प्रश्न-पत्र एक ही पारी में एक ही पेपर में  करवाये जायेंगे।
  •  साथ ही अगर आवश्यकता होगी तो उपलब्ध संसाधनानुसार परीक्षा केन्द्र भी  बढ़ाये जायेंगे।

जाने कब लगेंगी कालेज के प्रमोट अभ्यर्थियों की परीक्षा

जानिए क्या

संक्रमित विद्यार्थी को मिलेगा विशेष अवसर

  • अब तक जारी राज्य सरकार सुप्रीम कोर्ट तथा यूजीसी द्वारा समय-समय पर जारी दिशा निर्देशानुसार सुनिश्चित की जाएगी। 
  • कोविड-19 के संक्रमण से संक्रमित परीक्षार्थी, यदि पालना गृह विभाग परीक्षा में सम्मिलित नियमों की पालना  नहीं करता है अर्थात  यदि कोई परीक्षार्थी उनके परीक्षा परिणाम से संतुष्ट नहीं भी होता है, तो उसे परीक्षा देने का पुनः अलग से विशेष अवसर प्रदान किया जाएगा।

जिससे वह अपने परिणाम में सुधार कर सकता है 

  •   राज्य शिक्षा मंत्री श्री भंवर सिंह भाटी  ने बताया कि विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों के विद्यार्थियों के साथ उनमें कार्यरत शिक्षकों एवं अन्य कार्मिकों को प्राथमिकता के साथ टीकाकरण करवाया जाना आवश्यक है

 

देखे अधिकारिक अधिसूचना   

 क्या यूनिवर्सिटी के एग्जाम से पहले टीकाकरण करवाना अनिवार्य हैं

जैसा कि अब तक यूजीसी और सर्वोच्च न्यायालय के द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार ज्ञात जानकारी के आधार पर ऐसा जरूरी नहीं है कि विद्यार्थी को परीक्षा से पहले टीकाकरण करवाना आवश्यक हो लेकिन फिर भी यह विद्यार्थी के लिए एक लाभदायक कदम हो सकता है और इसे सरकार एक नियम के तौर पर अनिवार्य रूप से लागू भी कर सकती है इस वजह से अभ्यार्थियों से रिक्वेस्ट है कि वह समय पर कोविड-19 का टीकाकरण ले ले

Leave a Reply