Exam Info

ghar ghar aushadhi yojana Rajasthan in hindi : घर-घर औषधि योजना राजस्थान के बारे में संपूर्ण जानकारी 2021

Ghar Ghar  aushadhi Yojana

Ghar Ghar  aushadhi Yojana (GGAY) RAJASTHAN :- राजस्थान सरकार द्वारा लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए लोगों के स्वास्थ्य के लिए बहुत से स्वास्थ्य योजनाओं का संचालन किया जा रहा है । महामारी की वजह से इन्ही योजनाओं के क्रम में    सरकार देश के  स्वास्थ्य विभाग को अधिक मजबूती देनी तथा इस परिस्थिति से संभलने के लिए कई प्रकार की योजनाएं समय-समय पर ला रही है । तथा इसी क्रम में राज्य सरकारों द्वारा भी अपने राज्य के नागरिकों के लिए समय-समय पर कई योजनाओं का संचालन किया जा रहा है महामारी के बीच राजस्थान सरकार के सहयोग से भी एक ऐसी ही उपयोगी अनोखी योजना की शुरुआत की गई है । इसके लिए राजस्थान सरकार एक योजना लाई है जिससे इन् बीमारियों से बचा जा सके  राजस्थान सरकार द्वारा लोगों के स्वास्थ्य के लिए क्या कदम उठाए गए हैं आइए जानते हैं इस योजना के माध्यम से 

घर-घर औषधी योजना के बारे में पूर्ण जानकारी हिंदी में:-

क्रम.योजना के बारे में जानकारी योजना से जुड़े वक्तित्व 
1.योजना नामघर घर औषधि योजना (GGAY) राजस्थान
2.सुभारंभ अप्रैल माह 2021 (18/04/2021)
3.योजना क्षेत्रराजस्थान राज्य
4.लाभार्थीराजस्थान के निवासी
5.लाभ औषधीय प्रकार के पौधों का वितरण
6योजना संचालन विभागराजस्थान वन विभाग द्वारा संचालित
7.योजना समयावधि2021 से 2026 (5 साल) के लिए 
8.योजना के लिए स्वीकृत राशि210 करोड़ (कुल)
9.ऑफिशियल Website क्लिक करें 
10.अधिकारिक अधिसूचना प्रपत्रdawanlod
11.वर्तमान (2021-22) वर्ष के लिए बजट31.40 करोड़ रुपए 

 Ghar ghar aushadhi Yojana -(GGAY) क्या है :-

घर घर औषधि योजना ( Ghar Ghar aushadhi Yojana-GGAY ) एक प्रकार की स्वास्थ्य योजना ही है जो राजस्थान सरकार मुख्यमंत्री माननीय अशोक जी गहलोत द्वारा 2021 22 के बजट में राजस्थान औषधीय पौधों की विविधता एवं गुणवत्ता के लिए बढ़ावा देने के लिए शुरुआत की गई है इस  योजना को 18 अप्रैल 2021 को माननीय मंत्री मंडल की आज्ञा द्वारा घोषणा की गई जिसमें औषधीय पौधों की पौधशाला ए तैयार कर उनमें तुलसी अश्वगंधा गिलोय जैसे औषधीय पौधे तैयार करवाए जाएंगे तथा उन्हें राजस्थान के प्रत्येक घर तक पहुंचाई जाएंगे । इस योजना के द्वारा राजस्थान के नागरिकों के स्वास्थ्य के संरक्षण के लिए औषधीय पौधों का विकास कर उन्हें हर घर तक पहुंचाना मुख्य उद्देश्य है

Ghar Ghar aushadhi Yojana-2021  के बारे में जानकारी:-

इस योजना द्वारा राजस्थान के वनों एवं वनों के बाहर की सभी औषधीय प्रजातियों की उपलब्धता को देखते हुए जिनका उपयोग मानव स्वास्थ्य कल्याण सेवा में किया जा सकता है के लिए किया जाएगा तथा स्वास्थ्य संरक्षण एवं चिकित्सा के क्षेत्र में उपयोग में लिए जाएंगे जैसा कि वर्तमान परिस्थितियों में जलवायु परिवर्तन एवं जीवन शैली में परिवर्तन तथा पर्यावरण प्रदूषण में हो रहे परिवर्तन के कारण हो रही नई नई गंभीर बीमारियों से लोगों के बचाव एवं संरक्षण के लिए इस योजना द्वारा उपयोगी औषधीय पौध दी जाएंगी जिनके संरक्षण एवं उपयोग से वे अपने स्वास्थ्य की देशभर संरक्षण कर सकें कथा इस महामारी के दौर में निरोग रह सके

Ghar Ghar aushadhi Yojana का उद्देश्य :- 

 पिछले 2 साल से देश में महामारी के कारण कई लोगों जाने गई है जिससे राज्य और देश को जान माल़ की हानि हुवी हैं 

1. राज्य में औषधीय पौधों को उगाने के इच्छुक परिवारों को स्वास्थ्य रक्षण हेतु बह-उपयोगी औषधीय पौधे वन विभाग की पौधाशालाओं में उपलब्ध कराया जाना।

2. लोगों की व्याधि क्षमता एवं स्वास्थ्य रक्षण संबंधित क्षमता (immunity) को बढ़ाने के लिए तथा स्वास्थ्य चिकित्सा हेतु बहुत ही उपयोगी औषधी युक्त पौधों के बारे में लोगो को बताने के लिए ।

3. औषधीय युक्त छोटे पौधों के बारे में उनके प्राथमिक उपयोग तथा आयुर्वेद के क्षेत्र में चिकित्सा विभाग द्वारा प्रमाणित किए गए लब्ध स्रोतों के आधार पर उनके उपयोगों के बारे में लोगों को जागरूक करना एवं उनका उपयोग करना

4. जिला प्रशासन व वन विभाग के नेतृत्व में माननीय जनप्रतिनिधियों, पंचायतीराज संस्थाओं, विभिन्न राजकीय विभाग व संस्थानों, विद्यालयों और औद्योगिक घरानों इत्यादि का सहयोग लेकर जन अभियान के रूप में क्रियान्वित करना।

Ghar Ghar aushadhi Yojana (GGAY) का कार्य स्वरूप :-

 इस योजना का संचालन वन विभाग नोडल द्वारा किया जाएगा जिसे एक जन अभियान के रूप में चलाया जाएगा।

इस योजना के क्रियान्वयन करने के लिए राजस्थान वन विभाग द्वारा एक समिति का गठन किया जाएगा जिसमें समिति का प्रमुख वनरक्षक एवं अन्य वन बल प्रमुख होगा

इस योजना के लिए संबंधित जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में एक जिला स्तरीय टास्क फोर्स का भी गठन किया जाएगा तथा जिला प्रशासन के नेतृत्व में पंचायती राज संस्थान एवं जनप्रतिनिधियों विभिन्न सार्वजनिक संस्थानों राजकीय विभागों में तथा औद्योगिक घराना सभी में अधिक से अधिक स्तर पर अभियान चलाकर लोगों को सूचित किया जाएगा तब तक योजना में कार्य स्थलों का चिमनी करण करके वितरण व्यवस्था को एवं प्रचार प्रसार करके अतिरिक्त वित्तीय संसाधनों की व्यवस्था की जाएगी एवं इस योजना के लाभ के लिए उन्हें प्रेरित किया जाएगा

(GGAY) Ghar Ghar aushadhi Yojana की समयावधि:-

इस  योजना की राजस्थान सरकार द्वारा बजट सत्र वर्ष 2021-22 में घोषणा की गई थी तथा इस योजना का संचालन राज्य सरकार द्वारा आगामी 5 वर्षों के लिए किया जाएगा जिसे वर्ष 2021-22 से लेकर वर्ष 2025-26 तक पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है

क्या लक्ष्य होगा घर-घर औषधि योजना का:-

राजस्थान राज्य सरकार द्वारा अगले 5 वर्षों में राज्य के लगभग   1.26 करोड़ परिवारों को इस योजना में लाभान्वित किया जाएगा । जिसमें हर घर को चार प्रकार के औषधीय पौधे जैसे तुलसी, गिलोय, अश्वगंधा एवं कालमेग प्रजाति के 2-2 पौधे आगामी पांच वर्षों में तीन बार बिल्कुल निशुल्क वन विभाग की पौधशालाओ से दिए  जाएंगे। इस योजना में पौधों का वितरण प्रथम वर्ष में राजस्थान के लगभग 50% परिवारों को पौधे दिए जाएंगे तथा अगले 2022-23 में भी लगभग बचे हुए 50% लोगों को पौधे बांट देंगे तथा अगले वर्ष 2023-24 को एक साथ पूरे राजस्थान में 100% परिवारों को पौधे उपलब्ध करवाए जाएंगे तथा आगामी 2 वर्षों(2024-25,2025-26) तक पुनः 50-50 % परिवारों को औषधीय पौधे वितरित किए जाएंगे

जाने कहां-कहां किया जाएगा  पौधों का वितरण:-

Ghar Ghar aushadhi Yojana में राजस्थान वन विभाग द्वारा स्थापित पौधशालाओं  एवं अन्य चिन्हित स्थलों जैसे  सरकारी कार्यालय एवं सरकारी चिकित्सालय में उपलब्ध करवाए जाएंगे ।

पौधों के वितरण के लिए विभाग द्वारा गठित समिति द्वारा वित्तीय संसाधनों  को ध्यान में रखते हुए चयनित वितरण स्थल पर जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में बनी समिति द्वारा किया जाएगा

कैसे और कहां मिलेंगे पौधे जाने पूरी प्रक्रिया:-

इस योजना के अंतर्गत पौधों के वितरण के लिए लाभार्थी परिवार के जन आधार कार्ड अथवा आधार कार्ड की जानकारी प्राप्त कर अभिलेखों में संधारित करके वितरित किए जाएंगे । जिससे योजना के क्रियान्वयन एवं प्रबोधन तथा मूल्यांकन में सहायता मिलेगी साथ ही प्रत्येक परिवार को केवल 1 वर्ष में एक बार ही मिल सकेंगे जिन परिवारों को वर्तमान वर्ष में लाभ मिल गए हैं उन्हें अगले वर्ष में इस योजना के अंतर्गत पौधे नहीं दी जाएंगे । किस प्रक्रिया द्वारा जिन परिवारों को अगले वर्ष लाभ दिया जाना है उनका वर्गीकरण एवं चिन्हीकरण  आसानी से किया जा सकेगा

कब से होगा पौधे वितरण का कार्यक्रम शुरू:

वर्तमान वर्ष 2021-22 में राज्य में वन महोत्सव जुलाई के महीने में आयोजित महोत्सव पर सभी फारेस्ट रेंज ग्राम पंचायतें तहसीलें एवं शहरी निकायों में जुलाई महीने में पौधे वितरण के पहले चरण का शुभारंभ किया जाएगा तथा उसके बाद अगले चरणों का वितरण पौधशाला में पौध तैयार होने के बाद लगभग अक्टूबर-नवंबर के महीने तक दूसरे चरण मैं पौध वितरण की शुरुआत की जाएगी

You may also like

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in Exam Info